FacebookTwitterg+Mail

'इस फिल्म के सारे पात्र काल्पनिक हैं', सिर्फ एक शख्स की वजह से हर फिल्म से पहले चलती है ये लाइन

all the characters in film are fictitious because of a person
30 March, 2018 05:09:39 PM

मुंबई: हॉलीवुड से लेकर बॉलीवुड तक जब भी कोई फिल्म शुरू होती है, तो उससे पहले कुछ सेकण्ड्स की जरूरी जानकारी देते है। ये जानकारी कुछ इस प्रकार होती है- 'ये फ़िल्म काल्पनिक घटनाओं पर आधारित है और इसका जीवित और मृत किसी भी शख़्स से कोई वास्ता नहीं। अगर किसी की कहानी इससे मिलती है, तो वो बस एक संयोग मात्र है'। लेकिन कभी क्या आपने सोचा है कि हर फिल्म की स्टार्टिंग में ये जानकारी क्यों देते हैं, इसका मक्सद क्या है? आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हर फिल्म की शुरुआत में दी जानें वाली इस सूचना के पीछे बहुत बड़ा कारण है। 

PunjabKesari

18वीं सदी में हर किसी की ज़ुबान पर बस एक ही नाम रहता, वो था Rasputin का।लेकिन अच्छाई की वजह से नहीं, बल्कि बुराई की वजह से। Rasputin को लेकर कई कहानियां है। वह रूस में एक शाही परिवार के मार्गदर्शक के रूप में काम करते थे। इनका जन्म 21 जनवरी 1869 को रूस में हुआ। सुनने में आता है कि लोगों को वश में कैसे करते है, ये उन्हें अच्छी तरह आता था। इसलिए उन्होंने शाही परिवार को अपने वश में किया हुआ था। फिर एक एेसा समय आया जब Rasputin साधु बन गया। 

PunjabKesari

 

वह साधु तो बन गया था पर सुनता किसी की भी नहीं था। लोग उसे पागल भिक्षु बोलते थे। बाद में पागल बोलने वाले लोग ही उसकी बातों पर यकीन करने लगे। लोग उस पर भगवान की तरह विश्वास करते थे। जब ये बात रूस की रानी एलेक्ज़ेंड्रा तक पहुंची तो उन्होंने Rasputin को बुलाया, क्योंकि रानी का बेटा काफी बीमार रहता था और  Rasputin ने उसे बिल्कुल स्वस्थ कर दिया था। ये चमत्कार देखते ही रानी का पूरा परिवार उसका मुरीद बन गया। लेकिन Rasputin इतना अच्छा और सच्चा नहीं था। उसे हमेशा सेक्स की भूख रहती थी। बताया जाता है कि उसने रानी एलेक्ज़ेंड्रा के साथ भी शारीरिक संबध बनाए थे। 

 

PunjabKesari


बाद में सब कुछ Rasputin से पूछ कर ही होने लगा। लेकिन उसकी सलाह के बाद भी लगातार रूस जंग हारने लगा, जिसके कारण शाही परिवार ने ही Rasputin की हत्या करवा दी। अब आप सोच रहे होंगे कि इस पूरी कहानी का फ़िल्मों में जानकारी देने से क्या लेना-देना है। 

 

PunjabKesari

 

बता दें कि Rasputin की ज़िंदगी इतनी ख़तरनाक थी कि इस पर फिल्म बनाने का फैसला लिया गया। जब फिल्म रिलीज हुई तब उस पर ग़लत कहानी दिखाने का केस दाखिल हुआ। इसमें Rasputin द्वारा रानी एलेक्ज़ेंड्रा का रेप करते दिखाया गया, जिस पर आईरिन ने एतराज़ जताया और कहानी को ग़लत बताया। कोर्ट ने ऐसा करने पर फ़िल्म बनाने वाले प्रोडक्शन हाऊस MGM पर जुर्माना लगाया और फिल्म पर भी रोक लगाई गई। जिसके बाद प्रोडक्शन हाउस को भारी नुकसान हुआ। इसी के बाद फिल्म इंडस्ट्री को सीख मिली और फिल्म में ये जानकारी का उपयोग होने लगा क्योंकि कोई फिल्म में निभाए जानें वाले किरदार का विरोध ना कर सके।


PunjabKesari


fictitious characters Rasputin
loading...