FacebookTwitterg+Mail

Movie Review: 'टॉयलेट: एक प्रेमकथा'

movie review  toilet ek prem katha
11 August, 2017 04:23:29 PM

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार की फिल्म 'टॉयलेट: एक प्रेमकथा' आज रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में अक्षय के साथ एक्ट्रैस भूमि पेडनेकर भी है। यह कहानी गांव में रहने वाले केशव यानी अक्षय कुमार और जया यानी भूमि पेडनेकर की है। कहानी की शुरुआत अक्षय से होती है जो मांगलिक होता है। इसी वजह से उसकी शादी पहले भैंस से कराई जाती है यहीं उसकी मुलाकात जया से होती है। पहली की नजर में केशव को जया के प्यार हो जाता है और दोनों की लव स्टोरी आगे बढ़ती है। शादी के बाद जब जया, केशव के घर आती है तो उसे पता चलता है कि उसके घर में टॉयलेट नहीं है। ऐसे में ये बात उसे बहुत परेशान करती है। टॉयलेट न होने की वजह से केशव अपनी पत्नी को कभी दूसरों के घर तो कभी ट्रेन में लेकर जाता है। एक दिन तंग आकर जया टॉयलेट की वजह से घर छोड़ देती है और कहती है तभी वापस आएगी जब घर में टॉयलेट होगी। अब केशव के घर में टॉयलेट बनेगी या नहीं? क्या जया वापस आएगी? ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी।

बता दें कि फिल्म का डायरैक्शन अच्छा है। जैसा कि कहानी गांव की है ऐसे में सभी सीन्स रियल लोकेशन पर पिक्चराइज्ड किए गए हैं। स्क्रीनप्ले की खासियत यह है कि वो एक खास मुद्दे की तरफ भी आपका ध्यान आकर्षित करता है। देखा जाए तो डायरेक्शन, स्क्रीनप्ले, कैमरा वर्क कमाल का है। साथ ही बैकड्रॉप भी अच्छा है। फिल्म में अक्षय की एक्टिंग कमाल की है। वहीं भूमि ने भी उनका बखूबी साथ दिया है। कहानी दोनों के इर्द-गिर्द है ऐसे में पूरा फोकस इन पर रहता है। बाकी स्टार्स का काम अच्छा है। परफॉरमेंस के हिसाब से फिल्म बहुत ही बढ़िया है। फिल्म का म्यूजिक कहानी के साथ-साथ चलता है। स्क्रीनप्ले में गाने अच्छे हैं। बाकी बैकग्राउंड स्कोर अच्छा है।


Akshay Kumar Bhumi Pednekar Toilet Ek Prem Katha
loading...