main page

10 मार्च को कटनी की अदालत में पेश होंगे अक्षय कुमार, 'रुस्तम' के चलते कानूनी पचड़े फंसा बाॅलीवुड का खिलाड़ी

28 February, 2021 09:31:01 AM

बाॅलीवुड के खिलाड़ी कुमार यानि अक्षय कुमार अपनी फिल्मों की वजह से चर्चा में रहते हैं। काॅमेडी फिल्मों के साथ-साथ वह कई देशभक्ति फिल्मों में काम कर रहे हैं। बीते कई सालों से अक्षय कुमार एक के बाद एक हिट फिल्में दे रहे हैं। इन्हीं हिट फिल्मों में से एक फिल्म थी ''रुस्तम'' जो पांच साल पहले 2016 में रिलीज हुई थी। ये फिल्म खूब हिट साबित हुई थी। इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 127.50 करोड़ का बिजनेस किया था, लेकिन अब इस मूवी के चलते अक्षय कुमरा कानूनी पचड़े में फंस गए हैं। दरअसल,साल 2016 में रिलीज हुई

मुंबई: बाॅलीवुड के खिलाड़ी कुमार यानि अक्षय कुमार अपनी फिल्मों की वजह से चर्चा में रहते हैं।  काॅमेडी फिल्मों के साथ-साथ वह कई देशभक्ति फिल्मों में काम कर रहे हैं। बीते कई सालों से अक्षय कुमार एक के बाद एक हिट फिल्में दे रहे हैं। इन्हीं हिट फिल्मों में से एक फिल्म थी 'रुस्तम' जो पांच साल पहले 2016 में रिलीज हुई थी। ये फिल्म खूब हिट साबित हुई थी।

Bollywood Tadka

फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 127.50 करोड़ का बिजनेस किया था, लेकिन अब इस मूवी के चलते अक्षय कुमरा कानूनी पचड़े में फंस गए हैं। दरअसल,साल 2016 में रिलीज हुई फिल्म रुस्तम के एक सीन में अक्षय कुमार एक वकील को बेशर्म कहते नजर आते हैं।

Bollywood Tadka

इसी मामले में कटनी के वकील मनोज गुप्ता ने केस दायर किया था। अक्षय कुमार  के खिलाफ मध्य प्रदेश के कटनी की कोर्ट ने एक नोटिस जारी किया है। इस नोटिस के मुताबिक एक्टर को 10 मार्च तक अदालत में पेश होना है। 

Bollywood Tadka

अक्षय कुमार के खिलाफ आईपीसी के सेक्शन 500, 501 और 502 के अंतर्गत दायर की है।  रिपोर्ट्स के मुताबिक 2020 में वकील गुप्ता की याचिका पर सुनवाई होनी थी। हालांकि, कोरोना और लॉकडाउन के कारण ये नहीं हो सका। अब कोर्ट ने अक्षय कुमार को नोटिस भेजा है। इस लिस्ट में अक्षय कुमार के अलावा फिल्म के डायरेक्टर टीनू सुरेश देसाई, राइटर विपुल के रावल और सपोर्टिंग एक्टर अनंग देसाई को भी आरोपी बनाया है। 

Bollywood Tadka

बता दें कि 'रुस्तम' फिल्म के एक सीन में जज (अनंग देसाई) नेवी कमांडर पावरी (अक्षय कुमार) से कहते हैं-कमांडर पावरी कुछ वक्त के लिए अपनी नेवी की तहजीब और प्रोटोकॉल भूल जाइए। बस ये समझिए कि आप एक बेशर्म वकील हैं, जो अपने गवाह से कुछ भी पूछ सकता है। गुप्ता का कहना है कि कि कोई भी वकील अपने विटनेस से विधि के दायरे में पूछताछ कर सकता है। ऐसी पूछताछ किया जाना बेशर्मी की श्रेणी में नहीं आता। 


akshay kumarlegal trouble rustomBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity News
loading...