main page

बेटियों में देवी की तलाश और बलात्कार: चलती ट्रेन में लूट के बाद महिला से गैंगरेप, भड़की भूमि पेडनेकर बोलीं-'शर्म आती है हमारे देश में...

Updated 10 October, 2021 10:14:25 AM

7 अक्टूबर से नवरात्रि का त्योहार शुरु हो गया। नन्ही-नन्ही बच्चियों को दुर्गा का रूप मानकर पूजा की जाती है। बेटियों में देवी तलाश करते हैं। जहां एक तरफ कुछ दिनों के लिए लड़कियों की पूजा की जाती है। वहीं इन्हीं लड़कियों को कभी रेप कर मार दिया जाता है  तो कभी दहेज के नाम पर बलि दे दी जाती है। हाल ही में सेंट्रल रेलवे के महाराष्ट्र जोन में चलती ट्रेन में महिला के साथ गैंग रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया।

मुंबई: 7 अक्टूबर से नवरात्रि का त्योहार शुरु हो गया। नन्ही-नन्ही बच्चियों को दुर्गा का रूप मानकर पूजा की जाती है। बेटियों में देवी तलाश करते हैं। जहां एक तरफ कुछ दिनों के लिए लड़कियों की पूजा की जाती है। वहीं इन्हीं लड़कियों को कभी रेप कर मार दिया जाता है  तो कभी दहेज के नाम पर बलि दे दी जाती है। हाल ही में सेंट्रल रेलवे के महाराष्ट्र जोन में चलती ट्रेन में महिला के साथ गैंग रेप का सनसनीखेज मामला सामने आया।

Bollywood Tadka

ये महिला अपने पति के साथ यात्रा कर रही थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक लखनऊ से मुंबई जाने वाली पुष्पक एक्सप्रेस ट्रेन में इस वारदात को अंजाम दिया गया। इस मामले में इगतपुरी स्टेशन से करीब 8 लोग एक स्लीपर कोच में सवार हुए।

Bollywood Tadka

इन लोगों ने सबसे पहले लूटपाट की एक वारदात को अंजाम दिया। इसके बाद आरोपियों ने अपने पति के साथ ट्रेन में बैठी युवती के साथ घाट के इलाके में गैंग रेप किया। जब ट्रेन कसारा स्टेशन पहुंची तो उसने बाकी यात्रियों ने मदद मांगी। अब भूमि पेडनेकर ने महिलाओं के खिलाफ यौन अपराधों को लेकर एक पोस्ट शेयर किया। 

Bollywood Tadka

नवरात्रि पर्व के दौरान हुई इस घटना पर बात करते हुए एक्ट्रेस ने लिखा-'हम पर शर्म आती है! हमारे देश में महिलाओं के खिलाफ अपराध किसी महामारी की तरह बन गए हैं। हम रोज ही महिलाओं के खिलाफ बेहद गंभीर अपराधों के बारे में सुनते रहते हैं। बलात्कार से दहेज से संबंधित मामलों में मौत तक होती है। बच्चियों से बूढ़ी महिलाओं तक, प्यार से लेकर नफरत भरे अपराधों तक, हर बात के लिए एक स्पष्टीकरण होता है।'

Bollywood Tadka


उन्होंने आगे लिखा- 'यह तब तक नहीं रुकेगा जब तक हम तेजी से अपराधी को सजा देने का प्रावधान नहीं करते। इतने सख्त कानून कि कोई महिलाओं के खिलाफ ऐसे अपराध करने के बारे में सोचने से भी डरे। हमें और मजबूत पेट्रोलिंग चाहिए। युवा अवस्था से ही महिला अधिकारों और समानता के बारे में बच्चों को बताया जाना चाहिए।हमारी सारी कोशिश महिलाओं और खूबसूरत देश के लिए एक सुरक्षित माहौल को बनाने की होनी चाहिए।' 
 


bhumi pednekargang rapelucknow mumbaiBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsCelebrity
loading...