main page

डिस्क्लेमर को लेकर फिल्म 'थप्पड़' ने शुरु की नई पहल

24 February, 2020 02:31:37 PM

घरेलू हिंसा को फिल्मी पर्दे पर दिखाने को लेकर फिल्म "थप्पड़" की टीम ने डिसक्लेमर लगाने की मांग का समर्थन किया है। इस याचिका पर अब तक 1.27 लाख से अधिक लोगों ने हस्ताक्षर किया है...

नई दिल्ली। फिल्म 'थप्पड़' की टीम ने  मुख्य अभिनेत्री तापसी पन्नू (Taapsee Pannu) और निर्देशक अनुभव सिन्हा (Anubhav Sinha) ने एक याचिका का समर्थन किया है। जिसमें घरेलू हिंसा को प्रदर्शित करने वाली फिल्मों में डिसक्लेमर लगाने की मांग की गई है।महिका बनर्जी द्वारा महिलाओं के अधिकार संगठन ब्रेकथ्रू Change.org के लिए शुरू की गई इस याचिका पर अब तक 1.27 लाख से अधिक हस्ताक्षर एकत्र कर चुकी है।

तापसी ने उठाया सवाल
तापसी ने इस अभियान को बढ़ावा देने के लिए एक कांसेप्ट वीडियो शूट किया है। तापसी ने इस वीडियो में  सवाल उठाया कि जब ऑन स्क्रीन हमारे पास शराब, धूम्रपान और पशु क्रूरता के लिए डिसक्लेमर (Disclaimer) है, तो 'थप्पड़' के लिए डिसक्लेमर क्यों नहीं है?
याचिका में सूचना और प्रसारण मंत्रालय और केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (CBFC) से हिंसा के दृश्यों की पहचान करने और उन्हें चेतावनी व डिसक्लेमर के साथ समर्थन देने की बात कही गई है। इस पर महिका बनर्जी ने कहा "मुझे खुशी है कि ऑन-स्क्रीन लिंग भेदभाव हिंसा के प्रति चेतावनी और डिसक्लेमर पर हमारी याचिका को भारी सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली है।

फिल्म 'थप्पड़' ने लिया पहला स्टेप
हमें पूरा विश्वास हैं कि लोकप्रिय संस्कृति और समुदाय आधारित कार्यों के माध्यम से स्थायी व्यवहार परिवर्तन लाने के हमारे प्रयास इन लिंग आधारित हिंसा को समाप्त करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। वहीं सोहिनी भट्टाचार्य (Sohini Bhattacharya), अध्यक्ष और सीईओ, ब्रेकथ्रू ने अपने एक बयान में कहा कि मैं खुश हूं कि फिल्म 'थप्पड़' ने इसके प्रति पहला स्टेप लिया है। हमें उम्मीद है कि कई अन्य फिल्में इस प्रथा का पालन करेंगी।

32 वर्षीय अभिनेत्री ने भी अपने सोशल मीडिया पर याचिका को अपना समर्थन देते हुए सीबीएफसी से महिलाओं के खिलाफ हिंसा को दर्शाने वाली फिल्मों में डिस्क्लेमर लगाना अनिवार्य करने की बात कही है।

28 फरवरी को फिल्म 'थप्पड़' रिलीज
जब हमारी अधिकांश फिल्में महिलाओं के गलत चित्रण से भरी होती हैं, तो 'थप्पड़' जैसी फिल्में हमारे सामूहिक विवेक में एक हलचल पैदा कर देती हैं। महिका की Change.org याचिका पर तापसी ने समर्थन किया है, भारतीय फिल्म उद्योग के लिए एक महत्वपूर्ण बयान है जो महत्वपूर्ण मुद्दों पर सही संदेश भेजने की जिम्मेदारी लेता हुए हमारे देश की लाखों महिलाओं को हर दिन प्रभावित करता है।,Change.org इंडिया की कंट्री डायरेक्टर निदा हसन ने कहा।आपको बता दें कि फिल्म "थप्पड़" 28 फरवरी को रिलीज होने के लिए तैयार है।  


ThappadBollywoodTaapsee PannuCBFCDisclaimerAnubhav SinhaSohini Bhattacharyaतापसी पन्नूथप्पड़डिसक्लेमरकेंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड
loading...