main page

बाल दिवस: छलांग की टीम ने बच्चों के साथ हुई शूटिंग के बारे में कहा ये

16 October, 2020 05:43:29 PM

जिस फिल्म में बत्ती होते हैं उसमें नीरस क्षण कभी भी नहीं होता। मूड को जीवंत होते हुए और सेट को एक खेल मैदान बनता हुआ देखना अमेज प्राईम विडियो की आगामी फिल्म छलाग की कास्ट व क्ल सदस्यों के लिए एक विशेष अनुभव रहा...

नई दिल्ली। जिस फिल्म में बत्ती होते हैं उसमें नीरस क्षण कभी भी नहीं होता। मूड को जीवंत होते हुए और सेट को एक खेल मैदान बनता हुआ देखना अमेज प्राईम विडियो की आगामी फिल्म छलाग की कास्ट व क्ल सदस्यों के लिए एक विशेष अनुभव रहा। हंसल मेहता द्वारा निर्देशित, इस फिल्म में बहुमुखी प्रतिभावान राजकुमार राव और नशरत भरुचा मुख्य भूमिकाओं में है और इनके साथ जिशान आयूब, सतीश कौशिक, सौरभ शुक्ला, इला अरूणए जतिन सरना अहम किरदार निभा रहे है और कई सारे बने इस फिल्म का अभिन्न अंग है।

अजय देवगन, लव रंजन और अंकुर गर्ग द्वारा निर्मित, यह फिल्म बाल दिवस की पूर्व संध्या पर रिलीज होते हुए बच्चों के साथ एक खास जुडाव बनाती है। इसके साथ ही दिवाली के जोश के बीच छलांग एक ऐसी फिल्म होने का दावा करता है जो पूरे परिवार को एक सपूर्ण पारिवारिक दृश्य का अनुभव करेगा। 

कई जगहों से लिए गए बच्चे
छलांग पी टी मास्टर सोनू (राजकुमार राव) की एक प्रेरणादायक यात्रा है और विनोदपूर्ण संबोधन के द्वारा स्कूली पाठ्यक्रम में खेल शिक्षा के महत्व को समझाती है। कि बच्चे इस फिल्म का एक अभिन्न हिस्सा है. इसलिए निर्देशक हसल मेहता ने काफी समय यह अनुसंधान करने में लगाया कि फिल्म कसी बननी चाहिए। बच्चों के साथ काम करने के अपने अनुभव को साझा करते हुए हंसल मेहता ने कहा "छलांग में बच्चों को स्थानीय स्तर पर अलग आलग स्थानों से जैसे हिसार करनाल और गुड़गांव से चुना गया है। ये बच्चे अत्यंत स्वाभाविक हैं और विपुल क्षमता वाले भी है।

बच्चों ने किया शानदार प्रदर्शन
 छलांग की शूटिंग करने से पहले, शेखर कपूर का एक इंटरव्यू मैने देखा था जहा उन्हाने मिस्टर इंडिया और मासूम फिल्म के दौरान बच्चों को संभालने के बारे में बात कही और किस तरह से उन्होंने बच्चों से गजब का प्रदर्शन करवाया। उन्होंने कहा, इन्हें खुला छोड़ दो, और इस बात ने मुझे बहुत प्रभावित किया। मैने उन्हें खुला छोड़ा, उन्हें बहुत आनन्द आया और ये स्क्रीन पर देखा भी जा सकता है। राज, नशरत और जीशान के साथ जो रिश्ता इन बच्चों ने बनाया उसने इस फिल्म को सजीव बना दिया।बच्चों के साथ काम करने के सबसे पहले अनुभव को बताते हुए अभिनेता राजकुमार राव मे कहा "छलांग के सेट पर बच्चों के साथ कैमरे के आगे और पीछे भी एक अत्यन्त अव्छा अनुभव रहा। ये सही मायने में सितारे हैं। ये फिल्म में बहुत स्वाभाविक रहे. असाधारण रूप से प्रतिभाशाली है और इन्होंने फिल्म का स्तर बढ़ाया है। उनका उत्साह स्तर अत्यन्त सराहनीय रहा, तब भी जय बाहरी तापमान अत्यन्त गर्मी से गिर कर सर्दी तक चला गया, बच्चों में शूटिंग के दौरान वही जोश था और इन बच्चों से समी को वास्तव में प्रेरणा मिली। 

नुसरत भरूचा ने कहा ये
राजकुमार राव की साथी शिक्षक नुसरत भरूचा एक कम्प्यूटर टीचर है और इस फिल्म में राजकुमार के प्रेम रूचि की भूमिका भी निभाते हैं। बच्चों के साथ अपने काम करने के बारे में अपने अनुभव साझा करते हुए वह बताती हैं, "बच्चों के आसपास रहने से सदा ही बचपन की पुरानी यादें ताजा होती हैं और छलाग मुझे अपने स्कूल के दिनों की यादों की ओर ले गया। जिन बच्चों के साथ हमने फिल्म की शूटिंग करी थे अत्यन्त होशियार और शैतान थे जितना हम में से अधिकतर उस उम्र में नहीं रहे होंगे और इस बात ने हमें पूर समय गाँधे रखा। हर सुबह इन बच्चों का खिलखिलाता प्रसन्न चेहरा देखना बहुत ही अच्छा लगता था। मुझे खुशी है कि सभी बच्चों छलांग को दिवाली और बाल दिवस मौके पर अपने-अपनेपरिवार के साथ मिलकर आनंद उठा पाएंगे।


chhalaangbal diwaschildren dayछलांगछलांग बाल दिवस
loading...