main page

सुधा चंद्रन को एयरपोर्ट पर हुई परेशानी को लेकर CISF ने मांगी माफी, वीडियो शेयर कर एक्ट्रेस ने की थी पीएम मोदी से अपील

Updated 22 October, 2021 04:56:30 PM

एक्ट्रेस सुधा चंद्रन ने छोटे पर्दे पर अच्छी पहचान बनाई है। फैंस ने सीरियल्स में उनके काम को काफी पसंद किया है। हाल ही में सुधा चंद्रन ने वीडियो में पीएम से अपील करते हुए कहा था कि एयरपोर्ट पर उन्हें चेक इन और चेक आउट करते समय कृत्रिम पैरों के बार बार निकालने के लिए कहा जाता है जिससे उन्हें परेशानी होती है। उनकी शिकायत के बाद अब सीआईएसएफ ने उनसे माफी मांग ली है और साथ ही उन्हें आश्वासन दिया है कि आगे से उन्हें ऐसी किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

बॉलीवुड तड़का टीम. एक्ट्रेस सुधा चंद्रन ने छोटे पर्दे पर अच्छी पहचान बनाई है। फैंस ने सीरियल्स में उनके काम को काफी पसंद किया है। हाल ही में सुधा चंद्रन ने वीडियो में पीएम से अपील करते हुए कहा था कि एयरपोर्ट पर उन्हें चेक इन और चेक आउट करते समय कृत्रिम पैरों के बार बार निकालने के लिए कहा जाता है जिससे उन्हें परेशानी होती है। उनकी शिकायत के बाद अब सीआईएसएफ ने उनसे माफी मांग ली है और साथ ही उन्हें आश्वासन दिया है कि आगे से उन्हें ऐसी किसी भी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

Bollywood Tadka

 

दरअसल, कई सालों पहले सुधा का एक्सिडेंट हो गया था जिसमें उनका एक पैर चला गया था। उसके बाद सुधा को आर्टिफिशल लिंब लगाया गया, लेकिन जब भी वह बाहर ट्रैवल करने या काम के लिए जाती हैं तो एयरपोर्ट पर उन्हें रोक लिया जाता है और एक्ट्रेस को अपना आर्टिफिशल लिंब उतारने के लिए कहा जाता है, जिसका दर्द सुधा ने वीडियो शेयर कर बयान किया था।

अब सुधा की इस शिकायत के बाद से सीआईएसएफ के एक आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से रिट्वीट करते हुए लिखा- 'सुश्री सुधा चंद्रन को हुई असुविधा के लिए हमें अत्यंद खेद है। प्रोटोकॉल के अनुसार विशेष परिस्थितियों में ही सुरक्षा जांच के लिए प्रोस्थेटिक्स को हटाया जाता है'।


ट्वीट में आगे लिखा गया, 'हम जांच करेंगे कि संबंधित महिला कर्मियों ने सुश्री सुधा चंद्रन से प्रोस्ठेटिक्स को हटाने का अनुरोध क्यों किया? हम सुश्री चंद्रन को आश्वस्त करते हैं कि हमारे सभी कर्मियों को प्रोटोकॉल पर फिर से संवेदनशील बनाया जाएगा ताकि यात्रा करने वाले यात्रियों को कोई असुविधा ना हो'।

 

वीडियो में सुधा ने कहा था- यह एक बहुत ही पर्सनल चीज है जो मैं हमारे प्रिय प्रधानमंत्री मोदी जी को बताना चाहती हूं। यह मेरी केंद्र और राज्य सरकारों से अपील है। मेरा नाम सुधा चंद्रन है और मैं पेशे से एक एक्ट्रेस और प्रोफेशनल डांसर हूं। मैंने आर्टिफिशल लिंब के साथ डांस करके इतिहास रचा और अपने देश को गौरवान्वित किया। लेकिन जब भी मैं प्रोफेशनल विजिट्स पर जाती हूं तो मुझे हर बार एयरपोर्ट पर रोका जाता है। जब मैं सिक्योरिटी और सीआईएसएफ ऑफिसर्स से रिक्वेस्ट करती हूं कि प्लीज मेरे आर्टिफिशल लिंब के लिए ईटीडी टेस्ट कर दीजिए, तो वो फिर भी मुझे मेरा आर्टिफिशल लिंब उतारकर उन्हें दिखाने के लिए कहते हैं। मोदी जी क्या यह इंसानियत के तौर पर संभव है? क्या हमारा देश इसी के बारे में बात कर रहा है? क्या एक महिला दूसरी महिला को इसी तरह इज्जत देती है? मोदी जी मैं आपसे रिक्वेस्ट करती हूं कि जिस तरह आप सीनियर सिटीजन को कार्ड देते हैं ताकि वो कह सकें कि सीनियर सिटीजन हैं, उसी तरह हम लोगों के लिए भी कुछ इंतजाम करें।'

बता दें, सुधा चंद्रन एक सड़क हादसे का शिकार हो गईं थी जिसमें उनका पैर कट गया था। इसके बाद वो ऑर्टिफिशियल लिंब के सहारे चलती हैं।  

 


CISFapologiestroubleSudha ChandranairportTelevision NewsTelevision News and GossipTelevision Celebrity NewsEntertainment
loading...