main page

ऐलोपैथी और बाबा रामदेव विवाद में कूदे हंसल मेहता, बोले 'ये आदमी बेवकूफ है, जो हमारा कीमती समय...'

Updated 26 May, 2021 01:00:21 PM

एलोपैथिक डॉक्टरोंं को लेकर हाल ही में दिए गए एक बयान को लेकर बाबा रामदेव काफी चर्चा में हैं। उनके बयान से न सिर्फ डॉक्टरों में उबाल बना हुआ है, बल्कि बॉलीवुड स्टार्स का गुस्सा भी फूट पड़ा है। अब हाल ही में फिल्ममेकर हंसल मेहता ने बाबा रामदेव के एलोपैथ को ''स्टूपिड साइंस'' करार देने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। अब उनका ये ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।दरअसल, बाबा रामदेव पिछले साल कोरोना की शुरूआत से ही आयुरवैदिक दवाओं के बल पर कोरोना को ठीक करने का दावा करते आ रहे हैं। हाल ही में योग

बॉलीवुड तड़का टीम. एलोपैथिक डॉक्टरोंं को लेकर हाल ही में दिए गए एक बयान को लेकर बाबा रामदेव काफी चर्चा में हैं। उनके बयान से न सिर्फ डॉक्टरों में उबाल बना हुआ है, बल्कि बॉलीवुड स्टार्स का गुस्सा भी फूट पड़ा है। अब हाल ही में फिल्ममेकर हंसल मेहता ने बाबा रामदेव के एलोपैथ को 'स्टूपिड साइंस' करार देने पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। अब उनका ये ट्वीट सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।

Bollywood Tadka


 


दरअसल, बाबा रामदेव पिछले साल कोरोना की शुरूआत से ही आयुरवैदिक दवाओं के बल पर कोरोना को ठीक करने का दावा करते आ रहे हैं। हाल ही में योग गुरू ने एक खुला पत्र जारी कर आइएमए और फार्मा कंपनी से 25 प्रश्न पूछे हैं। बाबा रामदेव ने इस पत्र में हेपटाइटिस, लीवर सोयराइसिस, हार्ट एनलार्जमेंट, शुगर लेवल 1 और 2, फैटी लीवर, थायराइड, ब्लॉकेज, बाईपास, माइग्रेन, पायरिया, अनिद्रा, स्ट्रेस, ड्रग्स एडिक्शन, गुस्सा आदि पर स्थायी इलाज को लेकर सवाल पूछे हैं। रामदेव के इस ट्वीट को रिट्वीट करते हुए हंसल मेहता ने लिखा, 'यह बेवकूफ हमारे फ्रंटलाइन वर्कर्स का कीमती समय बर्बाद कर रहा है।'


वहीं हंसल मेहता ने इस मुद्दे पर बाबा के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए अपना बयान दिया है। उन्होंने लिखा, 'यह बेवकूफ (इडियट) आदमी हमारे फ्रंटलाइन वर्कर्स का कीमती समय बर्बाद कर रहा है।' हंसल का यह ट्वीट ताबड़तोड़ वायरल हो रहा है और यूजर्स भी कमेंट कर इस पर तेजी से अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

Bollywood Tadka


बाबा रामदेव ने अपने एक सवाल में पूछा कि क्या फार्मा कंपनी पर ऐसी कोई दवा है जिससे कोरोना संक्रमण के मरीज का बिना ऑक्सीजन सिलिंडर के ऑक्सीजन बढ़ जाए। इस पत्र में जो उनका सबसे बड़ा सवाल है, उन्होंने पूछा- अगर एलोपैथी सर्वशक्तिमान और सर्वगुण संपन्न है तो फिर एलोपैथिक चिकित्सकों को बीमार ही नहीं होना चाहिए। 
बताते चलें, बाबा रामदेव ने एलोपैथी और डॉक्टरों के खिलाफ बयान दिया था और इसके बाद से ही विवाद हुआ था। हालांकि, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के दखल देने के बाद बाबा रामदेव ने अपना बयान वापस ले लिया था। उन्होंने कहा कि वो हर चिकित्सा पद्धति का सम्मान करते हैं। योग गुरु ने कहा कि उन्होंने एक कार्यकर्ताओं के एक सम्मेलन में वॉट्सअप मैसेज को पढ़ा था। फिर भी अगर किसी को उस बयान से परेशानी हुई तो मुझे खेद है।


 


Hansal MehtareactionAllopathyBaba Ramdev controversyBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity NewsEntertainment
loading...