main page

कोरोना के चलते लगे लॉकडाउन में जूनियर आर्टिस्ट्स को पड़े खाने के लाले, फल-सब्जियां बेचकर और ऑटो चलाकर पाल रहे पेट

16 May, 2021 12:29:35 PM

देश में कोरोना वायरस जमकर अपना रंग दिखा रहा है। आए दिन भारी संख्या में लोगों कोरोना की गिरफ्त में आ ररे हैं। इसके चलते न सिर्फ मरीजों को अस्पतालों में इलाज की कमी का सामना करना पड़ रहा है, बल्कि दिहाड़ी मज़दूर की रोजी-रोटी पर भी काफी असर पड़ा है। फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाले  जूनियर आर्टिस्ट और दिहाड़ी मजदूरों को भी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने कहर बरपा दिया जिसके बाद सरकार को मजबूरन लॉकडाउन लगाना पड़ा। ऐसे में फिल्म और टीवी सीरियलों की शूटिंग भी रुक

बॉलीवुड तड़का टीम. देश में कोरोना वायरस जमकर अपना रंग दिखा रहा है। आए दिन भारी संख्या में लोगों कोरोना की गिरफ्त में आ ररे हैं। इसके चलते न सिर्फ मरीजों को अस्पतालों में इलाज की कमी का सामना करना पड़ रहा है, बल्कि दिहाड़ी मज़दूर की रोजी-रोटी पर भी काफी असर पड़ा है। फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाले  जूनियर आर्टिस्ट और दिहाड़ी मजदूरों को भी आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है।

Bollywood Tadka


महाराष्ट्र में कोरोना वायरस ने कहर बरपा दिया जिसके बाद सरकार को मजबूरन लॉकडाउन लगाना पड़ा। ऐसे में फिल्म और टीवी सीरियलों की शूटिंग भी रुक गई। इसके कारण हजारों लोग बेरोजगार हो गए हैं। फिल्मों और टीवी सीरियलों में काम करने वाले जूनियर आर्टिस्ट इतनी तंगहाली में जी रहे हैं कि सब्जी बेचने जैसे छोटे-मोटे काम करके रोजाना का खाना खाने के लिए पैसे कमाने पर मजबूर हो गए हैं।

मुंबई में बढ़ रहे कोरोना मामलों के बीच लगे लॉकडाउन के कारण फिल्म इंडस्ट्री के जूनियर आर्टिस्ट से उनका काम छिन गया है। वह रिक्शा चलाकर या सबजी बेचकर अपना पेट पाल रहे हैं।


रिपोर्ट्स के मुताबिक, पिछले 15 साल से जूनियर आर्टिस्ट का काम करने वाली भावना घर का किराया तक नहीं दे पा रही हैं। भावना ने केदारनाथ, तीस मार खां, अग्निपथ, गजनी और स्लमडॉग मिलेनियर जैसी 200 से ज्यादा फिल्मों में जूनियर आर्टिस्ट के तौर पर काम कर चुकी हैं। भावना एक सिंगल पेरेंट हैं, उनके पति का काफी समय पहले निधन हो गया था और उनके हालात आज हालात ऐसे हो गए हैं कि वह अपने बच्चे की स्कूल की फीस भी नहीं दे पा रही हैं।


वहीं कई फिल्मों में काम कर चुके जूनियर आर्टिस्ट अमजद पिछले दो महीने से बेरोजगार हो गए हैं। वह फल बेचकर अपना गुजारा कर रहे हैं।  


जूनियर आर्टिस्ट की असोसिएशन बताती है कि इस साल पिछली साल की तरह जूनियर कलाकारों को मदद नहीं मिल रही है। वह ऑटो चलाकर या सब्जी बेचकर अपना खर्च चला रहे हैं। सबसे ज्यादा परेशानी महिला कलाकारों को है जो सिंगल पेरेंट हैं और ऐक्टिंग के अलावा कोई और काम नहीं कर सकती हैं। इन्हें जल्द से शूटिंग दोबारा शुरू होने का इंतजार है।


Junior artistslivedsellingfruitsvegetablesdriving autoslockdownBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity NewsEntertainment
loading...