main page

Movie Review:'गली बॉय'

14 February, 2019 11:55:27 AM

बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह और आलिया भट्ट की फिल्म ''गली बॉय'' आज सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इसे डायरेक्टर जोया अख्तर ने डायरेक्ट किया है। जोया ने फिल्म के जरिए स्ट्रीट रैपर्स के संघर्ष को दिखाया है। फिल्म के जरिए रणवीर ने अपना सपना जिया है। बतौर रैपर उन्होंने अपना टैलेंट एक और दुनिया को दिखाया

मुंबई: बॉलीवुड एक्टर रणवीर सिंह और आलिया भट्ट की फिल्म 'गली बॉय' आज सिनेमाघरों में रिलीज हो गई है। इसे डायरेक्टर जोया अख्तर ने डायरेक्ट किया है। जोया ने फिल्म के जरिए स्ट्रीट रैपर्स के संघर्ष को दिखाया है। फिल्म के जरिए रणवीर ने अपना सपना जिया है। बतौर रैपर उन्होंने अपना टैलेंट एक और दुनिया को दिखाया है। तो आईए जानते है कैसी है फिल्म की कहानी।

Bollywood Tadka

कहानी

गली बॉय मुंबई के धारावी में रहने वाले मुराद (रणवीर सिंह) की कहानी है। जो गरीबी से ऊपर उठकर कुछ बड़ा करने का सपना देखता है। अपने दर्द और लफ्जों को वो अक्सर नोटबुक में लिखता है। सफीना (आलिया भट्ट) मुराद की गर्लफ्रेंड है। जो अच्छे खानदान से ताल्लुक रखती है। दोनों के स्टेट्स में जमीन-आसमान का फर्क है, इसलिए उनका रोमांस चोरी छिपे चलता है। इस बीच मुराद के पिता शाकिर (विजय राज) दूसरा निकाह करते हैं। दूसरी अम्मी के आने के बाद अपनी मां की दयनीय हालत देखकर मुराद दुखी रहता है। वो पिता से डरता है और उनकी हर बात को सिर झुकाकर मानता है।

 

मुराद की जिंदगी में यू-टर्न तब आता है जब मशहूर रैपर एमसी शेर (सिद्धांत चतुर्वेदी) की एंट्री होती है। एमसी शेर मशहूर रैपर है। मुराद भी एमसी शेर की तरह बनना चाहता है। वे उससे रैप की ट्रेनिंग लेता है। इस बीच पिता के बीमार होने की वजह से मुराद को घर की जिम्मेदारी उठानी पड़ती है। वो पिता की जगह ड्राइवरी का काम करता है। म्यूजिक प्रोग्रामर स्काई (कल्कि कोचलिन) मुराद और एमसी शेर को गाने का ऑफर देती है। तब मुराद के गली बॉय बनने का सफर शुरू होता है। लेकिन मुराद के पिता रैप के खिलाफ होते हैं। नौकरी और रैप प्रैक्टिस के बीच फिर कैसे उसकी जिंदगी करवट लेती है। कैसे मुराद अपने रैपर बनने का सपना पूरा करता है, ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी पड़ेगी। 


एक्टिंग


फिल्म में रणवीर, आलिया और सिद्धांत चतुर्वेदी की एक्टिंग दमदार है। कई सीन्स में आलिया और सिद्धांत, रणवीर पर भारी पड़े हैं। रणवीर का करेक्टर ज्यादातर डरा और सहमा दिखा है, जो अपने पिता के सामने जुबां नहीं खोलता है। ये भी वजह है कि रणवीर का रोल आलिया-सिद्धांत से दबता नजर आया। सिद्धांत मूवी का सरप्राइज फैक्टर हैं। उन्होंने उम्दा काम किया है। रैपर के स्वैग, एटिट्यूड, बॉडी लैंग्वेज और एक्सप्रेशन को उन्होंने बखूबी पकड़ा है। सिद्धांत-आलिया जब जब स्क्रीन पर आते हैं छा जाते हैं। अलहड़, बोल्ड, एग्रेसिव और हठेली लड़की के रोल में आलिया ने दमदार अभिनय किया है। खड़ूस पिता की भूमिका में विजय राज जमे हैं। कल्कि कोचलिन छोटी सी भूमिका में ठीक ठाक लगी हैं।

 

Bollywood Tadka


म्यूजिक

फिल्म का सबसे मजबूत पक्ष कलाकारों की शानदार एक्टिंग और गाने हैं। रैप कल्चर के दीवानों के लिए ये फिल्म ट्रीट है। गली बॉय के गाने मूवी रिलीज से पहले ही हिट हो चुके हैं। रणवीर ने अपने सिंगिंग टैलेंट का लोहा मनवाया है। उनकी आवाज में बने गाने शानदार बन पड़े हैं। सभी गानों के लिरिक्स दमदार हैं और सीधा दिल से कनेक्ट करते हैं।कई सीक्वेंस में फिल्माए गए रैप बैटल जबरदस्त बन पड़े हैं। मूवी के डायलॉग अच्छे हैं। आलिया भट्ट और रणवीर सिंह की फ्रेश पेयरिंग असरदार है। 


कमजोर कड़ियां

गली बॉय की कहानी बेहद सिंपल और सरल है। शायद यही इसके कमजोर होने की बड़ी वजह भी बनी है। मूवी में एंटरटेनमेंट और बॉलीवुड फिल्मों के हिट मसालों की कमी अखरती है। अगर आप थिएटर एंटरटेनमेंट के बारे में सोचकर जाएंगे तो यकीनन ही निराश होकर लौटेंगे। फिल्म काफी लंबी है। फर्स्ट हाफ बोर करता है। जोया अख्तर ने इंटरवल किरदारों की भूमिका बांधने में ही खत्म कर दिया। सेकंड हाफ धीरे-धीरे स्पीड पकड़ता है, लेकिन बीच में कहानी फिर स्लो हो जाती है। मूवी दर्शकों को बांधे रखने में बुरी तरह से नाकामयाब साबित होती है। गली बाय का क्लाइमेक्स भी निराशाजनक है।


movie review hindi newsgully boy hindi newsRanveer Singh hindi newsAlia Bhatt hindi newsSiddhant Chaturvedi hindi newsVijay Raaz hindi newsKalki Koechlin hindi newsBollywood Hollywood Movie ReviewLatest Bollywood Movie ReviewCurrent Movie ReviewExpert Reviews in Hindi
loading...