FacebookTwitterg+Mail

MOVIE REVIEW:  'जलेबी'

movie review of jalebi
13 October, 2018 03:21:34 PM

मुंबई: डेब्यू डायरेक्टर पुष्पदीप भारद्वाज की फिल्म 'जलेबी' रिलीज हो गई है। यह फिल्म मुंबई से दिल्ली तक के सफर पर आधारित है, जहां राइटर आयशा (रिया चक्रबर्ती) अपनी किताब के बुक रीडिंग सेशन के लिए जाती है, लेकिन ट्रेन में उसकी मुलाक़ात अनु (दिगांगना सूर्यवंशी) से होती है, जो की आयशा के पुराने प्यार देव माथुर (वरुण मित्रा) की पत्नी हैं। अनु के साथ उसकी बेटी पुल्टी (अनन्या दुरेजा) भी होती हैं।कहानी फ्लैशबैक और प्रेजेंट डे से होते हुए, अंततः रिजल्ट तक पहुंचती है। इश्क मोहब्बत प्यार के बीते दिनों की यादें भी चलती रहती हैं, ट्रेन में सिंगर अर्जुन (अर्जुन कानूनगो) की मौजूदगी भी होती है। आखिरकार क्या होता है, ये जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

 

PunjabKesari

 

फिल्म की ज्यादातर कहानी पहले से ही ट्रेलर में बताई जा चुकी है, लेकिन जिस तरह से डायरेक्टर पुष्पदीप भारद्वाज ने फिल्मांकन किया है, वो काबिल-ऐ-तारीफ़ है। संवाद, लोकेशन और दर्शाने का ढंग अच्छा है। कई बार इमोशनल पल आते हैं तो वहीं दूसरी तरफ पारिवारिक रिश्तों के ताने बाने को भी अच्छी तरह दिखाया गया है। दिल्ली की लोकेशन, और खास तौर पर नेताजी की बाड़ी को बढ़िया शूट किया गया है। वरुण मित्रा ने फिल्म में अच्छा काम किया है और उनकी आवाज कई दिलों को छू सकती है। उनका अभिनय बढ़िया है, वहीं रिया चक्रबर्ती ने उम्दा काम किया है, उन्हें जरूर इस फिल्म से फायदा होगा।

 


फिल्म की कमजोर कड़ी शायद इसका स्क्रीनप्ले है, जो हर वर्ग को पसंद नहीं आएगा। ख़ास तौर पर युवा वर्ग इससे कनेक्ट नहीं कर पायेगा। 20-20 के जमाने में टेस्ट मैच जैसा स्क्रीनप्ले लगता है। साथ ही एक गाने के अलावा बाकी गाने रिलीज से पहले हिट भी नहीं हो पाए। कहा जा रहा है यह बंगाली फिल्म प्रकटन से प्रेरित है, मैंने वो फिल्म भी देखी है, लेकिन यह फिल्म प्रकटन की पूरी खुशबू समाहित नहीं कर पाई है। युवावर्ग के मद्देनजर बेहतर स्क्रीनप्ले हो सकता था।
 


movie review jalebi
loading...