main page

नसीरुद्दीन शाह का बयान- मैं नहीं पढ़ता नमाज, यहां लोग कुरान पढ़ते जरूर हैं लेकिन समझते...

Updated 15 September, 2021 03:38:41 PM

हिंदी सिनेमा के दिग्गज एक्टर नसीरुद्दीन शाह अक्सर अपने बेबाक बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। हाल ही में उन्होंने इस्लाम धर्म को लेकर एक इंटरव्यू दिया है और कहा है कि वे कभी भी नमाज नहीं पढ़ते। नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि जिस तरह से समय के साथ हिंदू धर्म में सती प्रथा को बंद किया गया, वैसे ही इस्लाम में भी समय के साथ मार्डिफिकेशन किया जाना बेहद जरूरी है। इस्लाम में हिजाब का जिक्र नही है। इस्लाम में नजर का पर्दा मायने रखता है।

बॉलीवुड तड़का टीम. हिंदी सिनेमा के दिग्गज एक्टर नसीरुद्दीन शाह अक्सर अपने बेबाक बयानों को लेकर चर्चा में रहते हैं। हाल ही में उन्होंने इस्लाम धर्म को लेकर एक इंटरव्यू दिया है और कहा है कि वे कभी भी नमाज नहीं पढ़ते।

 


नसीरुद्दीन शाह ने कहा कि जिस तरह से समय के साथ हिंदू धर्म में सती प्रथा को बंद किया गया, वैसे ही इस्लाम में भी समय के साथ मार्डिफिकेशन किया जाना बेहद जरूरी है। इस्लाम में हिजाब का जिक्र नही है। इस्लाम में नजर का पर्दा मायने रखता है।

 


उन्होंने कहा कि जब वह छोटे थे तो उनके वालिद नमाज पढ़ने के लिए प्रेरित करते थे, लेकिन कभी उन्होंने जबरदस्ती नहीं की। वह बचपन में नमाज पढ़ते थे। लेकिन जब किसी तरह की कोई परेशानी होती है तो आयते पढ़ लेते हैं।

 


एक्टर ने कहा- भारत में नमाज सबसे ज्यादा पढ़ी जाती है, लेकिन समझी नहीं जाती। इस दौरान उन्होंने रत्ना पाठक शाह से शादी और रीति रिवाजों को लेकर भी बात की और बताया कि उनकी रत्ना पाठक से शादी बिना किसी रीति रिवाज के हुई थी।


बता दें, नसीरुद्दीन शाह बॉलीवुड इंडस्ट्री का पिछले पांच दशकों से हिस्सा हैं। उन्होंने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है। इनमें से उनकी 'निशांत', 'आक्रोश', 'मिर्च मसाला', 'अल्बर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है', 'जुनून', 'मंडी', 'अर्ध सत्य', 'जाने भी दो' जैसी कुछ बेहतरीन फिल्में हैं।  
 


Naseeruddin ShahreadNamazBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity NewsEntertainment
loading...