main page

पद्मावत पर आज 'सुप्रीम कोर्ट' सुनाएगी अपना अंतिम फैसला, इतने बजे होगी सुनवाई

23 January, 2018 09:58:12 AM

संजय लीला भंसाली की फिल्‍म पद्मावत पर कानून व्यवस्था के बावजूद करणी सेना का विरोध जारी है। 25 जनवरी को देशभर में यह फिल्म रिलीज होने वाली हैं। फिल्म पर मचे घमासान के बीच आज सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर इस मुद्दे पर सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट के फिल्म पर लगे बैन को हटाने के फैसले के बाद मध्यप्रदेश और राजस्थान ने कोर्ट में पुर्नविचार याचिका डाली थी। राज्य सरकारों की इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट अपना अंतिम फैसला सुनाएगा, इसके बाद सरकारों के पास कोई अन्य कानूनी रास्ता नहीं बचेगा। ये सुनवाई सुबह 10.30

 मुंबई: संजय लीला भंसाली की फिल्‍म पद्मावत पर कानून व्यवस्था के बावजूद करणी सेना का विरोध जारी है। 25 जनवरी को देशभर में यह फिल्म रिलीज होने वाली हैं। फिल्म पर मचे घमासान के बीच आज सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर इस मुद्दे पर सुनवाई होगी। सुप्रीम कोर्ट के फिल्म पर लगे बैन को हटाने के फैसले के बाद मध्यप्रदेश और राजस्थान ने कोर्ट में पुर्नविचार याचिका डाली थी। राज्य सरकारों की इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट अपना अंतिम फैसला सुनाएगा, इसके बाद सरकारों के पास कोई अन्य कानूनी रास्ता नहीं बचेगा। ये सुनवाई सुबह 10.30 बजे या दोपहर 2 बजे हो सकती है। 

बता दें कि दोनों ही राज्यों में आने वाले समय में चुनाव हैं, इसलिए अपने-अपने राज्यों में हो रहे विरोध को लेकर राज्य सरकारें गंभीर हैं। राज्य सरकारों के अलावा करणी सेना और अखिल भारतीय क्षेत्रीय महासभा ने भी अपनी याचिका सुप्रीम कोर्ट में दायर की हुई है। इससे पहले चार राज्यों ने फिल्म पर बैन लगाया था, जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया था और राज्य सरकारों को फिल्म रिलीज़ के लिए पूरी सुरक्षा प्रदान करने को कहा था।

इससे पहले सोमवार को यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने के बाद करणी सेना ने बड़ा ऐलान किया था। करणी सेना फिल्म के रिलीज़ होने से पहले पद्मावत देखने को राजी हो गई थी। हालांकि, उन्होंने एक शर्त भी रखी थी कि जब तक वे फिल्म ना देख लें तब तक के लिए रिलीज़ पर रोक लगनी चाहिए।

पद्मावत पर लगातार विरोध की आग बढ़ती ही जा रही है। सोमवार को गुरुग्राम, नोएडा समेत कई शहरों में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ। इस मामले में पुलिस करीब 16 लोगों को गिरफ्तार भी कर चुकी है, इसके अलावा करीब 200 लोगों पर केस दर्ज हो चुका है।विरोध के दौरान करणी सेना ने डीएनडी पर भी आगजनी की और आम लोगों के साथ मारपीट भी की।


 


padmaavatsupreme courtmadhya pradeshrajasthangovernment
loading...