FacebookTwitterg+Mail

जब मोहम्मद अजीज ने लोगों को अपनी आवाज के जादू से बनाया था दीवाना

popular singer mohammad aziz died
27 November, 2018 11:59:21 PM

मुंबईः बॉलीवुड में मोहम्मद अजीज को ऐसे सिंगर के तौर पर याद किया जाएगा जिन्होंने अपनी आवाज की कशिश से तीन दशक से अधिक समय तक श्रोताओं को मंत्रमुग्ध किया। मोहम्मद अजीज का जन्म 02 जुलाई 1954 में पश्चिम बंगाल के अशोकनगर में हुआ था। बचपन से ही उनका रुझान पाश्र्वगायन की ओर था। आवाज की दुनिया के बेताज बादशाह मोहम्मद रफी से प्रभावित रहने के कारण मोहम्मद अजीज उन्हीं की तरह पाश्र्वगायक के तौर पर अपनी पहचान बनाना चाहते थे।

उन्होंने बतौर गायक अपने करियर की शुरुआत कोलकाता स्थित ‘गालिब’ रेस्तरां से की। फिल्मों में मोहम्मद अजीज ने बतौर पाश्र्वगायक अपने करियर की शुरूआत बंगला फिल्म ‘ज्योति’ से की। वर्ष 1984 में मोहम्मद अजीज मुंबई आ गए जहां उन्होंने हिंदी फिल्म अंबर में पाश्र्वगायन किया। इसी दौरान उनकी मुलाकात संगीतकार अनु मलिक से हुई जिन्होंने उन्हें फिल्म मर्द में गाने का अवसर दिया। फिल्म मर्द में मोहम्मद अजीज का गाया और अमिताभ बच्चन पर फिल्माया गाना ‘मर्द तांगे वाला’ सुपरहिट साबित हुआ। इसके बाद उन्होंने कई हिट गाए गाए जिसमें गोविंदा पर फिल्माया गया उनका गाना ‘मय से, मीना से न साकी से’ काफी मशहूर हुआ।  

मोहममद अजीज ने अपने सिने करियर के दौरान हिंदी के अलावा बंगाली, उड़यिा और अन्य क्षेत्रीय भाषा की फिल्मों में पाश्र्वगायन किया। मोहम्मद रफी ने अलग-अलग भाषाओं में लक्ष्मीकांत प्यारेलाल, राहुल देव बर्मन, बप्पी लाहिड़ी, राजेश रोशन, राम लक्ष्मण, जतिन ललित जैसे संगीतकारों के निर्देशन में 20 हजार से अधिक गीतों को अपनी आवाज दी है। 
 


mohammad aziz died singer bollywood
loading...