main page

350 फिल्मों में रेपिस्ट का किरदार निभा चुके हैं रंजीत, अब बोले- पूरी जिंदगी लड़कियों के कपड़े खींचता रह गया

Updated 26 September, 2021 03:06:46 PM

एक्टर रंजीत ने भले ही अब फिल्मों से थोड़ी दूरी बना ली है लेकिन एक समय में रंजीत सबसे फेमस विलेन रहे हैं। एक्टर ने खूब सारी फिल्मों में काम किया है और लोगों के दिलों में एक खास जगह बनाई। हाल ही में रंजीत ने अपने करियर और फिल्मों की यादों को ताजा किया है।

मुंबई. एक्टर रंजीत ने भले ही अब फिल्मों से थोड़ी दूरी बना ली है लेकिन एक समय में रंजीत सबसे फेमस विलेन रहे हैं। एक्टर ने खूब सारी फिल्मों में काम किया है और लोगों के दिलों में एक खास जगह बनाई। हाल ही में रंजीत ने अपने करियर और फिल्मों की यादों को ताजा किया है। 

Bollywood Tadka
रंजीत ने कहा- 'मैं बाय चांस एक्टर बन गया। मैं कभी एक्टिंग को लेकर सीरियस नहीं था। मेरा यहां कोई गॉडफादर नहीं था फिर भी मुझे इतनी फिल्में मिल गईं। मेरे पास घर आने के लिए भी समय नहीं होता था। मैं अपनी कार में सोता था। मुझे तो यह भी नहीं पता था कि मैं कितना पैसा कमा रहा हूं। लोग मुझे लेकर फिल्में अनाउंस कर देते थे और मुझे पता ही नहीं होता था कि उनकी फिल्म में मैं काम कर रहा हूं। हालांकि मैंने ऐसी फिल्मों के लिए कभी मना भी नहीं किया।'

Bollywood Tadka
रंजीत ने आगे कहा- 'मैं एक फुटबॉलर था और लोग मुझे गोली के नाम से बुलाते थे। मैंने और मेरे 3 दोस्तों ने एयरफोर्स के एग्जाम के लिए अप्लाई किया था जिसके बाद हम ट्रेनिंग के लिए कोयंबटूर गए थे, लेकिन वहां मेरे सुपरवाइजर के साथ मेरी नहीं बनी तो मुझे बीच में ही छोड़ना पड़ा। जब मैं वापस दिल्ली आ गया तो नहीं पता था क्या करूं। मैं एक पार्टी में गया तो वहां मुझे रणजीत सिंह मिले जो मुझे अपनी फिल्म में लेना चाहते थे। मैंने फिल्म को हां कह दी, इसमें मैं हीरो के रोल में था जो एक ट्रक ड्राइवर का हेल्पर है। मैंने अपने परिवार तो दूर दोस्तों तक को नहीं बताया था कि मैं फिल्म में काम कर रहा हूं। बाद में रणजीत सिंह ने फिल्म बनाने से ही इनकार कर दिया। मैं मुंबई आया और दूसरे ही दिन सुनील दत्त से मिला। इसके बाद अगले ही दिन मेरी मुलाकात राज कपूर साहब से हुई। जब फिल्म बननी ही फाइनल नहीं थी तो मैंने वापस दिल्ली आने के बारे में सोचा।'

Bollywood Tadka
इसके अलावा रंजीत ने कहा- 'इसी बीच मुंबई छोड़ने से पहले मेरे दोस्त ने मुझसे कुछ काम में मदद मांगी तो मैं उसे सुनील दत्त के ऑफिस ले गया। वहां पता चला कि सुनील दत्त मुझसे काफी नाराज थे क्योंकि वह एक रोल के लिए मुझे लेना चाहते थे मगर मुझसे संपर्क नहीं कर पा रहे थे। और इस तरह मुझे 'रेशमा और शेरा' में रोल मिल गया। इसके बाद मुझे 'सावन भादों' में एक छोटा सा रोल मिला। इस तरह मुझे फिल्में मिलनी शुरू हो गईं। पहली 2 फिल्मों में मैंने भाई का किरदार निभाया लेकिन उसके बाद फिर पूरी जिंदगी लड़कियों के कपड़े खींचता रह गया। उन दिनों में रेप सीन वल्गर नहीं होते थे। मेरा काम था कि साथ में हिरोइन कम्फर्टेबल रहे। बाद में लोग मुझे रेप स्पेशलिस्ट बुलाने लगे। उस समय अब जैसा माहौल नहीं था और लव मेकिंग सीन नहीं हुआ करते थे। भाई, ऐसा ही करना है तो ब्लू फिल्म बना लो?' रंजीत ने आगे मजाकिया लहजे में कहा, 'मैं हमेशा मजाक में कहता था कि फैशन ने मेरा करियर बर्बाद कर दिया। लड़कियों ने इतने छोटे कपड़े पहनने शुरू कर दिए कि खींचने को कुछ बचा ही नहीं।' बता दें रंजीत ने 350 फिल्मों में रेपिस्ट का रोल प्ले किया है। हालांकि रंजीत को इससे कुछ शिकायत नहीं है। 


ranjeettalkscareerfilmsBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity News
loading...