main page

Drugs Case: आर्यन खान के बचाव में सुप्रीम कोर्ट पहुंचे शिवसेना नेता, बोले- NCB की भी हो जांच

Updated 19 October, 2021 02:56:06 PM

आर्यन खान के ड्रग्स केस में अब सियासी पार्टियों ने भी दखल दे दी है। एक के बाद एक नेता इस मामले में अपनी राय देता नजर आ रहा है। अब हाल ही में शिवसेना के एक सीनियर नेता किशोर तिवारी ने भी इस मामले में अपनी चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से एनसीबी के मामलों और शाहरुख खान के बेटे आर्यन के मौलिक

बॉलीवुड तड़का टीम. आर्यन खान के ड्रग्स केस में अब सियासी पार्टियों ने भी दखल दे दी है। एक के बाद एक नेता इस मामले में अपनी राय देता नजर आ रहा है। अब हाल ही में शिवसेना के एक सीनियर नेता किशोर तिवारी ने भी इस मामले में अपनी चुप्पी तोड़ी है। उन्होंने सुप्रीम कोर्ट से एनसीबी के मामलों और शाहरुख खान के बेटे आर्यन के मौलिक अधिकारों के उल्लंघन मामले की जांच कराने की मांग की है। 

उन्होंने कहा कि पिछले लगभग दो वर्षों से दुर्भावनापूर्ण और पक्षपातपूर्ण तरीके से एनसीबी फिल्मी हस्तियों, मॉडलों और अन्य सेलेब्स को परेशान कर रही है। आर्यन खान और अन्य आरोपियों की जमानत याचिका पर फैसला 20 अक्टूबर तक सार्वजनिक अवकाश का हवाला देते हुए टालने के बारे में याचिका में कहा गया है कि इसने आरोपी को बड़े अपमान का शिकार बनाया है और साथ ही अलोकतांत्रिक और अवैध रूप से जेल में 17 रातों के लिए रखा है।

 

 

तिवारी ने कहा है कि यह संविधान के जीवन और स्वतंत्रता के मौलिक अधिकार की पूरी तरह से उल्लंघन है। उन्होंने एनसीबी और मुंबई के क्षेत्रीय निदेशक (समीर वानखेड़े) की भूमिका की जांच की मांग की। एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पर संदेह की ओर इशारा करते हुए याचिका में कहा गया है कि अधिकारी की पत्नी बॉलिवुड में बड़ा नाम कमाने की कोशिश कर रही हैं। यही कारण है कि फिल्म उद्योग में केवल प्रमुख नाम, उनके परिवार, मॉडल, निर्माता-निर्देशक को एनसीबी जांच के दायरे में ला रही है।


Drugs CaseShiv SenaleaderreachesSupreme CourtdefenseAryan KhanNCBBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity NewsEntertainment
loading...