main page

शेरशाह रिव्यु : सिद्धार्थ और कियारा ने दिल जीता

Updated 12 August, 2021 11:37:43 PM

देश भक्ति के जोश और जज्बे से भरी इस फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा ने कैप्टन विक्रम बत्रा का किरदार निभाया

रेटिंग : 4
नई दिल्ली/डिजिटल टीम। लंबे इंतजार के बाद कारगिल युद्ध के हीरो कैप्टन विक्रम बत्रा की बायोपिक ‘शेरशाह’ अमेजन प्राइम पर रिलीज हो गई। देश भक्ति के जोश और जज्बे से भरी इस फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा ने कैप्टन विक्रम बत्रा का किरदार निभाया है। सिद्धार्थ और कियारा आडवानी स्टारर फिल्म ‘शेरशाह’ की कहानी को राइटर संदीप श्रीवास्तव ने बखूबी पिरोने की कोशिश की है। विक्रम बत्रा की इस बायोपिक में लव स्टोरी को भी अच्छी तरह बुना गया है। यानी शेरशाह न सिर्फ कैप्टन विक्रम बत्रा के भारतीय सेना के सफर को दिखाती है बल्कि उनकी मोहब्बत की अधूरी दास्तां को भी बयां करती है। 
2 घंटे और 15 मिनट की इस फिल्म में विक्रम बत्रा के बचपन, कॉलेज लाइफ, आर्मी जाइन करने, 24 साल की उम्र में पहला सेना मिशन कमांड करने से लेकर कारगिल वॉर में प्वाइंट 4875 तक की जीत की कहानी है। 

 

अच्छा है सिद्धार्थ और कियारा का काम 
सिद्धार्थ ने कैप्टन विक्रम बत्रा का किरदार शानदार तरीके से निभाया है। ऐसा कहना कतई गलत नहीं है कि यह उनके करियर की सबसे बेहतरीन फिल्म साबित होगी, उनकी एक्टिंग सराहनीय है। किआरा का काम अच्छा है। डिंपल चीमा के किरदार में कियारा ने कमाल किया है। सिद्धार्थ और कियारा की जोड़ी ने खूब जम रही है। सेना में फौजियों के किरदार में शिव पंडित, राज अर्जुन, निकेतन धीर,  व अन्य कलाकारों ने किरदार दमदार तरीके से निभाया है।

 

फिल्म की कहानी 
चंडीगढ़ में कॉलेज में पढऩे वक्त विक्रम बत्रा (सिद्धार्थ) को सिख लडकी चीमा डिंपल (कियारा) से प्यार हो जाता है। वक्त ज्यादा नहीं बीतता, विक्रम का सेना मे चयन हो जाता है। इसी बीच कारगिल युद्ध शुरू हो जाता है और कैप्टन विक्रम को इमरजेंसी में ही जाना होता है। जाते वक्त वह कहता है- तिरंगा लहरा कर आऊंगा, नहीं तो उसमें लिपट कर आऊंगा। डिंपल उसका इंतजार करती है लेकिन उसके शहीद होने की खबर आती है।  


डायरैक्टर विष्षु वर्धन की इस फिल्म को देखकर आप यकीनन कह उठेंगे... ये दिल मांगे मोर।


SHERSHAAH REVIEW
loading...