main page

कोरोना काल पर सोनू सूद लिखेंगे किताब, पन्‍नों में दर्ज होगी मजदूरों की दर्द भरी दास्‍तान की कहानी

16 July, 2020 11:13:08 AM

बाॅलीवुड एक्टर सोनू सूद ने कोरोना वायरस की महामारी के दौरान देश में लॉकडाउन के बीच प्रवासी श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचाया। सोनू के इस काम की हर कोई तारीफ कर रहा है। मुश्किल की घड़ी में बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए भगवान बनकर आगे आए। कोरोना काल महाराष्ट्र में फंसे मजदूरों को उनके घर भेजने का काम किया था। यहां तक की उन्होंने मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें भी चलवाई थीं।

मुंबई: बाॅलीवुड एक्टर सोनू सूद ने कोरोना वायरस की महामारी के दौरान देश में लॉकडाउन के बीच प्रवासी श्रमिकों को उनके घरों तक पहुंचाया। सोनू के इस काम की हर कोई तारीफ कर रहा है। मुश्किल की घड़ी में बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद प्रवासी मजदूरों के लिए भगवान बनकर आगे आए। कोरोना काल महाराष्ट्र में फंसे मजदूरों को उनके घर भेजने का काम किया था। यहां तक की उन्होंने मजदूरों के लिए स्पेशल ट्रेनें भी चलवाई थीं। वहीं अब सोनू सूद अपने इन्हीं अनुभवों पर एक किताब लिखने जा रहे हैं। उनकी यह पहली किताब होगी। अभी इस किताब का नाम तय नहीं हुआ है।

Bollywood Tadka

इस किताब में लोगों की मदद करने और लोगों की इस यात्रा के भावनात्मक पहलुओं के साथ-साथ चुनौतीपूर्ण क्षणों का भी जिक्र होगा।  उन्होंने पेंग्विन रैंडम हाउस के साथ मिलकर अपने इस काम को किया है।

Bollywood Tadka

पब्लिकेशन पेंग्विन रेंडम हाउस इंडिया ने बुधवार को बताया कि यह किताब इस साल के अंत तक लाॅन्च होगी। इस बारे में बात करते हुए सोनू ने  कहा- 'मैंने फैसला लिया है कि हमेशा के लिए मेरी आत्मा में बस चुकी कहानियों और अनुभवों को मैं किताब में दर्ज करूंगा…मैं उत्साहित हूं और किताब के जरिए आपसे जुड़ने के लिए बेचैन हूं। मैं आपका समर्थन चाहता हूं, सभी को प्यार। 'प्रवासियों के साथ दिन में 16 से 18 घंटे रहना और दर्द बांटना. जब मैं उन्हें घर वापस जाने के लिए यात्रा शुरू करता हूं तो मेरा दिल खुशी और सुकून भरा होता है। उनके चेहरे पर मुस्कान देखकर, उनकी आंखों में ख़ुशी के आंसू मेरे जीवन का सबसे खास अनुभव रहा है।

Bollywood Tadka

इस आंदोलन के बाद मुझे लगता है कि मेरा एक हिस्सा यूपी, बिहार, झारखंड, असम, उत्तराखंड और कई अन्य राज्यों के गांवों में रहता है, जहां मुझे अब नए दोस्त मिल गए हैं और गहरे संबंध बनाए हैं. मैंने निर्णय किया है कि इन सभी अनुभवों और कहानियों को एक किताब में पिरोऊंगा।

Bollywood Tadka

बता दें कि सोनू ने मुंबई में रहने वाले प्रवासी श्रमिकों को उनके राज्यों में पहुंचाने के लिए अभियान शुरू किया था। सूद और उनकी टीम ने इस संबंध में टोल फ्री नंबर और वॉट्सऐप नंबर भी जारी किया था। उन्होंने मार्च में लागू लॉकडाउन की वजह से शहर में फंसे लोगों को उनके घरों तक पहुंचाने के लिए खाना, बस, ट्रेन के साथ ही विमान तक की अरेंज की थीं। 


 


sonu soodexperiencehelping migrant workerslockdowncoronavirusBollywoodBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsCelebrity
loading...