main page

बेहद संघर्षभरा रहा है विक्की कौशल के पिता का करियर, करना चाहते थे Suicide

Updated 03 June, 2023 02:25:15 PM

विक्की कौशल इन दिनों अपनी फिल्म 'जरा हटके जरा बचके' लिए सुर्खियों में बने हुए हैं। लेकिन बेहद कम लोग जानते हैं कि एक्टर के पिता भी फिल्म इंडस्ट्री से ही ताल्लुक रखते हैं।

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर विक्की कौशल इन दिनों अपनी फिल्म 'जरा हटके जरा बचके' लिए सुर्खियों में बने हुए हैं। इस फिल्म में विक्की की जोड़ी सारा अली खान के साथ बनी है जिसे दर्शक काफी पंसद कर रहे हैं। 'जरा हटके जरा बचके' का ओपनिंग कलेक्शन काफी बढ़िया रहा है। विक्की कौशल बॉलीवुड के उन एक्टर्स में शुमार हैं जिन्होंने अपनी मेहनत के दम पर सफलता का मुकाम हासिल किया है। एक्टर की फिल्मों का दर्शक बेसब्री से इंतजार करते हैं, लेकिन बेहद कम लोग जानते हैं कि विक्की कौशल के पिता भी फिल्म इंडस्ट्री से ही ताल्लुक रखते हैं। जी हां, आपने सही सुना.... एक्टर के पिता पिछले 5 दशक से फिल्मों में एक्शन डायरेक्टर के रूप में काम कर रहे हैं। लेकिन उनका यह सफर बेहद संघर्ष और मुश्किलों से भरा रहा है।

विक्की कौशल के पिता शाम कौशल पढ़ाई में थे अव्वल
विक्की कौशल के पिता का नाम शाम कौशल है। उनका जन्म पंजाब में हुआ था, घर का पूरा खर्चा किराना की एक दुकान से चलता था। शाम कौशल पढ़ाई में काफी रुचि हुआ करती थी। ग्रेजुएशन में टॉप करने के बाद उन्होंने एम ए और एम फिल की डिग्री की हासिल की, क्योंकि उनका सपना एक लेक्चरर बनने का था। लेकिन इसके लिए उन्हें चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी जाकर पढ़ाई करनी थी, वहीं घर की माली हालत ठीक न होने के कारण शाम कौशल ने अपना सपना बीच में ही छोड़ दिया और नौकरी की तलाश करने लगे। इस बारे में शाम कौशल कहते हैं कि "मेरा एक दोस्त उन दिनों छुट्टियों में घर आया हुआ था, उसने मुझे अपने साथ चलने के लिए कहा और विश्वास दिलाया कि वहां मुझे कोई न कोई काम मिल ही जाएगा। मैं सिर्फ काम करना चाहता था चाहें लेबरगिरी ही क्यों न करनी पड़े। पापा ने मुझे मुबंई जाने के लिए सपोर्ट किया। इसके लिए उन्होंने कर्जा लेकर मेरे शहर जाने का पूरा इंतजाम कर दिया।" 

मुबंई आने के बाद किया सेल्समैन का काम
मुंबई आने के बाद मैंने एक साल से भी ज्यादा समय तक सेल्समैन का काम किया। इस दौरान मैंने कर्ज लिए हुए पैसे चुका दिए। यह नौकरी छोड़ने के बाद मुझे 2-3 महीने तक कोई जॉब नहीं मिली। इसी बीच मैंने खुद का सेल्समैन का काम शुरू किया, लेकिन आर्थिक तंगी की वजह से इसे बंद करना पड़ा। काम की तलाश में मुझे दर-दर भटकना पड़ा। इसके बाद दोस्तों की सलाह पर मैं स्टंट लाइन में घुस गया। इसके बाद शाम कौशल जैसे-तैसे एसोसिएशन से जुड़ गए और स्टंटमैन की फील्ड में आ गए। 24 साल के शाम कौशल एक स्टंटमैन के रूप में काम करने लगे। इस दौरान उन्हें शारीरिक रूप से काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ा, लेकिन वह समय-समय वह खुद को मोटिवेट करते रहे और परिस्थितियों से हार नहीं मानी। 1990 में प्रोडक्शन कंट्रोलर रवि नायर की वजह से शाम कौशल को डायरेक्टर थम्पी कन्ननथनम ने बतौर एक्शन डायरेक्टर काम करने का मौका दिया। 

जब जान पर भारी पड़ गया एक्शन
 पहली बार शमी कौशल ने एक्शन डायरेक्टर के रूप में 'इंद्रजाल' फिल्म में काम किया। ये काम काफी जोखिम भरा था। कई बार एक्शन उनकी जान पर भी भारी पड़ गए। एक घटना में तो शाम कौशल की हालत बहुत  ज्यादा खराब हो गई थी। पेट में इंफेक्शन के कारण डॉक्टर ने कह दिया कि अब वो बच ही नहीं पाएंगे। इस बारे में बताते हुए शाम कौशल कहते हैं कि जब हालात ज्यादा खराब हो गए, तो मेरे मन में सुसाइड करने का भी ख्याल आया। रात में उठने की कोशिश की लेकिन मैं उठ नहीं पाया क्योंकि पेट में कई टांके लगे थे। 

अनुराग कश्यप ने रोक दी थी शूटिंग
शाम कौशल की हालत के बारे में जब नाना पाटेकर को पता चला तो वह अपनी शूटिंग छोड़कर उनसे मिलने पहुंच गए। जब यह घटना हुई तो मैं अनुराग कश्यप की फिल्म 'ब्लैक फ्राइडे' की शूटिंग कर रहा था। जब मुझे पता चला कि मेरे बचने की  उम्मीद कम है तो मैंने उन्हें कॉल करके कहा कि आप साइनिंग अमाउंट ले जाइए। इसके बाद उन्होंने मैसेज में कहा कि इस फिल्म को आपसे बढ़िया कोई नहीं कर सकता, हमें आपके ठीक होने का इंतजार हैं।

Content Editor: Varsha Yadav

Vicky Kaushal Father Struggle StoryVicky KaushalSunny KaushalKatrina KaifReal LifeSham Kaushal Family ConditionChandigarh UniversitySham Kaushal Career StruggleNana PatekarAnurag Kashyap

loading...