main page

कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बॉर्डर से सरकार पर बसरीं स्वरा, बोलीं 'हम इतने बेशर्म हो गए हैं कि किसान

10 January, 2021 12:44:31 PM

नए कृषि कानूनों को लेकर पिछले डेढ़ महीने लगातार किसान लोग सरकार के खिलाफ दिल्ली में धरना दे रहे हैं। किसान नवंबर के महीने से दिल्ली में धरने पर बैठ केंद्र सरकार के काले कानून का विरोध कर रहे हैं। इन बिलों के खिलाफ किसानों को आम लोगों के साथ-साथ पंजाबी और बॉलीवुड स्टार्स का भी खूब सपोर्ट मिल रहा है।

बॉलीवुड तड़का टीम. नए कृषि कानूनों को लेकर पिछले डेढ़ महीने लगातार किसान लोग सरकार के खिलाफ दिल्ली में धरना दे रहे हैं। किसान नवंबर के महीने से दिल्ली में धरने पर बैठ केंद्र सरकार के काले कानून का विरोध कर रहे हैं। इन बिलों के खिलाफ किसानों को आम लोगों के साथ-साथ पंजाबी और बॉलीवुड स्टार्स का भी खूब सपोर्ट मिल रहा है। बीते शनिवार बॉलीवुड एक्ट्रेस स्वरा भास्कर किसानों समर्थन में टिकरी बॉर्डर पहुंची। स्वरा के अलावा वहां पंजाबी सिंगर हरभजन मान, आर्य गब्बर औऱ नूर चहल सहित कई पंजाबी सिंगर भी स्टेज पर मौजूद रहे।

Bollywood Tadka


स्वरा भास्कर ने बाकी स्टार्स के साथ किसान आंदोलन का समर्थन करते हुए सरकार से तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की। कंसर्ट में पहुंचकर स्वरा समेत सभी कलाकारों ने कृषि कानूनों के विरोध में भाषण दिया।  

Bollywood Tadka


किसानों को संबोधित करते हुए स्वरा ने कहा, ‘मैं यहां कलाकार के तौर पर आई हूं और देश के नागरिक के तौर पर उन लोगों का प्रतिनिधित्व करती हूं, जो शहरों में पले-बढ़े लेकिन कभी गांव नहीं गए। सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ लड़ाई देश के हर नागरिक की लड़ाई है।

Bollywood Tadka


एक्ट्रेस ने आगे कहा, ‘मैं पूरे देश की तरफ से आप सभी का धन्यवाद करती हूं कि हमारी लड़ाई को इस प्रदर्शन के माध्यम से लड़ रहे हैं। मुझे आज शर्म आ रही है कि हमारा समाज और देश ऐसा हो गया है, जहां बुजुर्गों की देखभाल करने के बजाए हमने उन्हें इतनी ठंड में सड़कों पर बैठने के लिए मजबूर कर दिया है।’

Bollywood Tadka

 

स्वरा बोलीं कि वो किसान नहीं है, किसानी नहीं जानती हैं लेकिन रोटी खाती हैं और रोटी किसान ही पैदा करता है। इसलिए मेरा किसानों से नाता है। इसलिए में यहां आई हूं। यह समझना कि आंदोलन इनका है हमारा नहीं है यह अहंकार है। हम इतने बेशर्म और अहंकारी हो गए हैं कि इन लोगों के दर्द का हमें अहसास नहीं होता। अगर देश हमारी मां है, तो किसान पिता हैं क्योंकि वे हमें भोजन पैदा करके देते हैं। 
आखिर में एक्ट्रेस ने कहा, मुझे समझ नहीं आ रहा कि ऐसी क्या मौत आ गई है यह कानून लागू करना जरूरी हो गया। एक आरटीआई से भी साफ हो गया है कि किसानों से कोई सलाह मशवरा नहीं किया गया था जब कानून बनाए गए थे।


 


Swara Bhaskartikri bordersupportfarmersfarmer billsBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity Newsentertainment news
loading...