FacebookTwitterg+Mail

दाढ़ी की ‘जूं’ को मारा, तो खाने होंगे 50 कोड़े

27 August, 2013 05:21:01 PM

दमिश्क: सीरिया में राष्ट्रपति बशर अल असद सरकार के खिलाफ संघर्षरत फ्री सीरियन आर्मी ने एक फतवा जारी किया है जिसके अनुसार अगर उनके किसी सदस्य ने अपनी दाढी के ‘जूं’ को मारा तो उसे 50 कोडों की सजा दी जाएगी। वाशिंगटन पोस्ट के अनुसार सीरिया के अंग्रेजी चैनल अहलुलबायत न्यूज ने इस फतवे की अनूदित रिपोर्ट अपने चैनल पर प्रकाशित की है।

रिपोर्ट के मुताबिक असद विद्रोहियों को यह फतवा मिला है कि अगर उन्होंने असद सरकार के खिलाफ जारी ‘जिहाद’ के दौरान पाक दाढी में होने वाले जूं को मारा तो उन्हें कडी सजा दी जाएगी। फतवे में कहा गया है ‘जिहाद के दौरान पानी की कमी के कारण साफ-सफाई न हो पाने से ही दाढी में जूं हो जाते हैं। जिहाद खुदा का पाक काम है और अगर इस दौरान दाढी में जूं हो तो उसे नहीं मारा जाए क्योंकि ये खुदा को मानने वाले जीव हैं।’

फतवा में साथ ही इस आदेश का उल्लंघन करने वालों को कड़ी चेतावनी दी गई है, ‘कि अगर किसी ने इस आदेश को नहीं माना तो उसे शरिया कानून के अनुसार 50 कोडों की सजा दी जाएगी और अलेप्पो की शरिया अदालत में उसके खिलाफ मामला चलाया जाएगा।’ फतवे में साथ ही जूं के कारण होने वाली खुजली से बचने के उपाय भी बताएं गए हैं जिसमें विद्रोहियों को सलाह दी गई है कि वे अपनी दाढी पर मेहंदी लगाएं जिससे उन्हें कम खुजली लगेगी। लेकिन अहलुलबायत न्यूज के मुताबिक यह फतवा इस्लाम के उस सीख के खिलाफ है जिसमें साफ-सफाई से रहने की सलाह दी गई है। इस्लाम में मुस्लिमों को कुरान पढने से पहले स्नान करने के लिए कहा गया है।


सीरियाबशर अल असदसीरियन आर्मीफतवाजूं
loading...