FacebookTwitterg+Mail

.... और गूगल पर लगा 70 लाख डॉलर का जुर्माना

20 December, 2013 12:08:31 PM

नर्इ दिल्ली: इंटरनेट के उपयोगकर्ता गूगल सर्च इंजन का उपयोग किए बिना नहीं रहते लेकिन किसी ने कल्पना नहीं की होगी कि चोरी छिपे आंकड़े जुटाने के कारण खुद गूगल पर ही 70 लाख डालर का जुर्माना लगा होगा। यह भी कल्पना से परे है कि ब्रिटेन के संग्रहालय में रखी 4,000 साल पुरानी मूर्ति खुद घूम जाए। लेकिन ऐसा हुआ है।  ऐसी ही कुछ दिलचस्प घटनाओं का ब्यौरा पेश है जिन्होंने यह कहने पर मजबूर कर दिया कि ‘‘गजब.....।’’

नक्शा बनाने की सेवा में निजी वाई..फाई हॉटस्पॉट से चोरी..छिपे आंकड़े एकत्र करने के लिए गूगल पर अमेरिका में 70 लाख डालर का जुर्माना लगाया गया और कंपनी यह जुर्माना भरने को राजी हो गई। कानूनी सुलह के तहत गूगल ने 12 मार्च को घोषणा की कि वह 2008 और 2010 के बीच अमेरिका में स्ट्रीट व्यूव व्हीकल द्वारा संग्रह किए गए ई..मेल, पासवर्ड, वेब इतिहास एवं अन्य आंकड़ों को नष्ट कर देगी। ब्रिटेन के मैनचेस्टर संग्रहालय में 4,000 साल पुरानी मिस्र की एक मूर्ति ने यहां के संरक्षकों को चौंकने पर मजबूर कर दिया है। साल के मध्य में प्रतिमा खुद ही 180 अंश पर घूमने लगी और खबरों का हिस्सा बन गर्इ।

1800 ईसापूर्व के समय की 10 इंच लंबी मूर्ति एक ममी की कब्र में मिली थी और यह मैनचेस्टर संग्रहालय में 80 साल तक रही। साल के मध्य में संग्रहालय के क्यूरेटरों ने मूर्ति का कोण बदलते हुए देखा।  विशेषज्ञों ने कमरे पर वीडियो के जरिये निगरानी की और यह देखकर हैरान रह गये कि यह मूर्ति 180 अंश पर घूम रही है जबकि इसके आसपास कोई भी नहीं था। यरूशलम में एक बाहरी अरब गांव में एक रेस्तरां मालिक ने खानपान की संस्कृति बचाए रखने के लिए एक अनोखी पेशकश की : सेलफोन स्विच ऑफ करने पर 50 फीसदी डिस्काउंट मिलेगा।’’

जावदत इब्राहिम का कहना है कि स्मार्टफोन की वजह से आधुनिक खानपान का अनुभव प्रभावित हो रहा है। उन्होने उम्मीद जताई कि भारी डिस्काउंट की वजह से वह दौर लौटेगा जब लोग रेस्तरां में खाने के साथ साथ कुछ समय साथ बिताने जाते थे और खाने की तारीफ भी करते थे। इब्राहिम के रेस्तरां का नाम भी अबू घोश ही है और यह 1993 में शुरू हुआ था। ब्रिटिश सोशल सर्विसेज ने काम के सिलसिले में ब्रिटेन आई एक गर्भवती इतालवी महिला का जबरन ऑपरेशन कर उसकी कोख से बच्ची बाहर निकाल ली थी। अब यह बच्ची 15 माह की हो चुकी है और सोशल सर्विसेज ने इसे गोद देने वाले बच्चों की सूची में रखा है। बच्ची की मां उसे हासिल करने के लिए कानूनी लड़ाई लड़ रही है।
 


इंटरनेट गूगल सर्च इंजन गजब सोशल सर्विसेज रेस्तरां
loading...