main page

कथक सम्राट बिरजू महाराज का निधन,पोते संग खेलते हुए आया हार्ट अटैक,83 की उम्र में ली अंतिम सांस

Updated 17 January, 2022 08:32:59 AM

कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज का निधन हो गया है।  83 वर्षीय बिरजू महाराज की हार्ट अटैक के चलते मौत की खबर मिली है। बिरजू महाराज ने रविवार और सोमवार की दरमियानी रात अंतिम सांस ली। रिपोर्ट्स के मुताबिक रविवार को देर रात बिरजू महाराज अपने पोते के साथ खेल रहे थे। इसी दौरान उन्हें हार्ट अटैक आया है। इसके बाद उन्हें परिजन दिल्ली के ही साकेत के एक हाॅस्पिटल में ले गए, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

मुंबई: कथक सम्राट पंडित बिरजू महाराज का निधन हो गया है।  83 वर्षीय बिरजू महाराज की हार्ट अटैक के चलते मौत की खबर मिली है। बिरजू महाराज ने रविवार और सोमवार की दरमियानी रात अंतिम सांस ली। रिपोर्ट्स के मुताबिक रविवार को देर रात बिरजू महाराज अपने पोते के साथ खेल रहे थे। इसी दौरान उन्हें हार्ट अटैक आया है। इसके बाद उन्हें परिजन दिल्ली के ही साकेत के एक हाॅस्पिटल में ले गए, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।

Bollywood Tadka

कुछ दिन पहले ही वह किडनी की समस्या से उबरे थे और फिलहाल डायलिसिस पर थे। पंडित बिरजू महाराज के निधन से भारतीय कला जगत ने अपने एक अनूठे कलाकार को खो दिया है।  

Bollywood Tadka

 

उनके पोते स्वरांश मिश्रा ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए इस बारे में जानकारी दी।उन्होंने लिखा-'बहुत ही गहरे दुख के साथ हमें बताना पड़ रहा है कि आज हमने अपने परिवार के सबसे प्रिय सदस्य पंडित बिरजू जी महाराज को खो दिया। 17 जनवरी को उन्होंने अंतिम सांस ली। मृत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करें।'

Bollywood Tadka

 

वहीं गायक अदनान सामी ने भी सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए उन्हें श्रद्धांजलि दी है। ​​​​​​अदनान सामी ने सोशल मीडिया पर लिखा- 'महान कथक नर्तक पंडित बिरजू महाराज जी के निधन की खबर से बहुत ज्यादा दुखी हूं।आज हमने कला के क्षेत्र का एक अनोखा संस्थान खो दिया। उन्होंने अपनी प्रतिभा से कई पीढ़ियों को प्रभावित किया है।'

Bollywood Tadka

पंडित जी या महाराज जी के उपनाम से लोकप्रिय रहे बिरजू महाराज को देश के शीर्ष कथक नृतकों में से एक माना जाता रहा है। दशकों से वह कला जगत के सिरमौर रहे हैं। उनका संबंध कथक नृतकों के महाराज परिवार से रहा है। उनके चाचा शंभू महाराज और लच्छू महाराज भी कथक के नृतक थे। इसके अलावा उनके पिता और गुरु अच्छन महाराज भी हिंदुस्तानी क्लासिकल म्यूजिक के बड़े कलाकार थे।बिरजू महाराज ने देवदास, डेढ़ इश्किया, उमराव जान और बाजी राव मस्तानी जैसी फिल्मों के लिए डांस कोरियोग्राफ किया था। इन्होंने सत्यजीत राय की फिल्म 'शतरंज के खिलाड़ी' में संगीत दिया था। बिरजू महाराज को 1983 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था। 
 


famous kathak dancerpandit birju maharajpassed awayBollywood NewsBollywood News and GossipBollywood Box Office Masala NewsBollywood Celebrity
loading...