FacebookTwitterg+Mail

अनोखी घटना: बीमारी ने बनाया मुस्लिम व्यक्ति को इसाई

04 October, 2013 05:33:55 PM

मोंटगोमेरी: अमेरिका के अलवामा प्रांत में एक बेहद अनोखी घटना सामने आयी है जिसमें दिमागी बीमारी के कारण कोमा में चले जाने के बाद ठीक हुआ एक मुस्लिम व्यक्ति खुद को इसाई मानने लगा है। सीरियाई मूल के करीम शम्सी बाशा ने बताया कि वर्ष 1992 में दिमागी बीमारी के कारण वह एक माह तक कोमा में रहने के बाहर जब सामान्य अवस्था में आया तो उसने स्वयं को इसाई के रुप में महसूस किया।

न्यूज वेबसाइट किश्चियन पोस्ट को जानकारी देते हुए उसने कहा कि किशोरावस्था से ही मैं पांच वक्त की नमाज अदा करता था और नियमित रुप से मस्जिद जाकर अल्लाह के सामने अपना सर झुकाता था। रमजान के पाक महीने में मैं रोजे भी रखता था। बाशा ने बताया कि सीरियाई राष्ट्रपति बशर-अल-असद के शासन से तंग आकर 18 वर्ष की उम्र में वह टेनेसी विश्वविद्यालय में दाखिला लेने के लिए अमेरिका चला गया तथा यहीं पर विवाह करने के बाद बर्मिघम चला गया।

बाशा का इलाज कर रहे डाक्टर उस समय आश्चर्यचकित रह गये जब उसने कोमा से बाहर आने के बाद स्वयं को इसाई बताया तथा ईसाई धर्म की पवित्र पुस्तक बाइविल पढने की मांग की। बाशा ने कहा ईसाई धर्म में उसका प्रवेश वर्ष 1996 में हो गया था और उसे अपनी मुस्लिम पत्नी से तलाक लेने में 10 वर्ष लग गए। बाशा के परिवार के अन्य लोग पहले की तरह सामान्य रुप से मुस्लिम के रुप में जिंदगी बिता रहे है।


विवाहमुस्लिमडाक्टरइसाईदिमागी बीमारीराष्ट्रपति बशर अल असद
loading...