FacebookTwitterg+Mail

Hichki Review: रानी मुखर्जी का शानदार कमबैक, जीत लिया दिल

hichki review
23 March, 2018 03:36:03 PM

स्टार कास्ट: रानी मुखर्जी, हर्ष मायर, सचिन पिलगांवकर, शुप्रिया पिलगांवकर और कुणाल शिंदे

डायरेक्टर: सिद्धार्थ पी मल्होत्रा

रेटिंग: **** (4 स्टार)

नई दिल्ली/टीम डिजिटल। लगभग चार साल बाद रानी मुखर्जी फिल्म 'हिचकी' से पर्दे पर वापस लौटी हैं। रानी की आखिरी फिल्म 'मर्दानी' साल 2014 में रिलीज हुई थी, जिसके बाद उन्होंने अपना पूरा ध्यान परिवार के ऊपर लगा दिया था। आज स‍िनेमाघरों में रिलीज 'हिचकी' में अपनी एक्‍ट‍िंग से रानी से साब‍ित कर द‍िया है क‍ि एक्‍टर हमेशा एक्‍टर होता है। चाहे वो क‍ितने द‍िन बाद भी पर्दे पर वापस लौटे।

 

PunjabKesari

कहानी 

रानी मुखर्जी फिल्म में नैना माथुर के किरदार में हैं, जो जिंदगी में हुए एक बहुत बड़े नुकसान को मौके में तब्दील करती है। हिचकी (टॉरेट सिंड्रोम) की वजह से रानी को बोलने में थोड़ी दिक्कत होती है, इसी के चलते उन्हें शिक्षिका की नौकरी भी काफी जद्दोजहद के बाद हासिल हो पाती है। संघर्ष के बाद नैना माथुर को बस्ती के 14 बच्चों को पढ़ाने की जिम्मेदारी मिलती है। नैना माथुर अपनी मेहनत और लगन से बच्चों की जिंदगी को संवारती हैं। हालांकि पढ़ाने के दौरान रानी के फिल्मी किरदार को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। बच्चे उनपर सट्टा खेलते हैं कि ये 'हकली' कब तक टिकेगी? फिल्म की कहानी ब्रैड कोहेन की पुस्तक ‘फ्रंट ऑफ द क्लास: हाऊ टॉरेट सिंड्रोम मेड मी द टीचर आई नेवर हैड’ पर आधारित है।

फिल्म में रानी मुखर्जी के अलावा सुप्रिया पिलगांवकर, आसिफ बसरा और शिवकुमार सुब्रमण्यम हैं। फिल्म को डायरेक्ट सिद्धार्थ मल्होत्रा ने किया है वहीं फिल्म को प्रोड्यूस आदित्य चोपड़ा और मनीष शर्मा ने किया है। फिल्म में म्यूजिक जस्लीन रॉयल और हितेश सोनिक का है।

एक्टिंग

4 साल बाद रानी मुखर्जी ने फिल्म 'हिचकी' से कमबैक किया है। पूरी फिल्म रानी के कंधों पर टिकी है। उन्होंने अपने किरदार को बखूबी निभाया है। सचिन और प्रिया पिलगांवकर ने रानी के पेरेंट्स का किरदार निभाया है। रानी के भाई के रोल में हुसैन दलाल ठीक ही नजर आए हैं। भाई-बहन के रिश्ते को और मजबूती से दिखाया जा सकता था।

 

फिल्म की थीम से आपको लगेगा कि ये फिल्म 'तारे जमीं पर' जैसी है। उसमें आमिर खान ने डिस्लेक्सिया से पीड़ित एक बच्चे का भविष्य सुधारा था। हालांकि फिल्म 'हिचकी' की तुलना 'तारे जमीं पर' से नहीं हो सकती, क्योंकि इस फिल्म के कई कमजोर पक्ष भी हैं। फिल्म में बच्चों के किरदार को भी प्रभावी रूप से नहीं दिखाया गया है। हां, टीचर नैना माथुर की भूमिका में रानी मुखर्जी ने अपना सिक्का जरूर जमाया है।

म्यूजिक

फ‍िल्‍म के गाने काफी मजेदार हैं। गानों पर रानी कभी बच्चों के साथ झूमती-गाती नजर आ रही हैं। फिल्म में रानी की बीमारी को एक कमजोरी के तौर पर नहीं दिखाया गया, बल्क‍ि ये दिखाया गया कि इससे किस तरह मेच्योरिटी के साथ निपटा जा सकता है। हिचकी 20 से 25 करोड़ रुपये से बनी फ‍िल्‍म है और फ‍िल्‍म ब‍िजनेस के जानकारों की मानें, तो फ‍िल्‍म ओपन‍िंग डे पर 3 करोड़ की कमाई कर सकती है। उनकी पिछली फिल्म मर्दानी ने पहले दिन 3.44 करोड़ रुपए कमाए थे।


Hichki Review rani mukerji
loading...